Home » सरकार उन कार्यों का कर रही प्रचार जो हुए ही नहीं – किसान मंच
उत्तर प्रदेश न्यूज

सरकार उन कार्यों का कर रही प्रचार जो हुए ही नहीं – किसान मंच

राष्ट्रीय किसान मंच ने उत्तर प्रदेश सरकार पर किसानों की समस्याओं का समाधान न करने का आरोप लगाया है। मंगलवार को राष्ट्रीय किसान मंच उत्तर प्रदेश अवध प्रांत की मासिक बैठक प्रदेश कार्यालय पर सम्पन्न हुई।

इसमें कहा गया कि मौजूदा भारतीय जनता पार्टी की सरकार सिर्फ अपने उन कार्यों का प्रचार कर रही है जो जमीन पर कहीं हुए ही नहीं हैं। सरकार न ही गन्ने का मूल्य समय पर दिलवा पा रही है और न ही सही मूल्य ही किसान पाता है। मजदूर समाज की हालत दिन पर दिन बद से बत्तर होती जा रही है। फसलों का मूल्य सही नहीं मिलता है। मिलने वाली रकम भी कभी समय पर नहीं मिलती है।

मंच के अध्यक्ष पंडित शेखर दीक्षित ने कहा कि फसल बीमा योजना पूरी तरह से फेल है। ये सिर्फ पूंजीपतियों को फायदा पहुँचाने के लिए बनाई गयी योजना है, जो सिर्फ उन पूंजीपतियों को ही लाभ पहुंचाता है।

किसान बिल पर सरकार का रवैया गोल-मोल है। किसान परेशान है। भविष्य की मंशा सरकार की सभी किसानों को कर्जदार और गुलाम बनाने की तरफ ज्यादा दिखाई पड़ती है।

किसान की जमीनों को विकास के नाम पर लूट कर सस्ती दरों में मुवावजा देकर बड़े उद्योगपतियों को फायदा पहुँचाया जा रहा है। तरह तरह के कॉरिडोर इसी का नमूना हैं।

किसान मंच ने चेतावनी दी कि यदि गन्ना किसानों और अन्य किसानों की समस्याओं का निवारण सरकार ने नहीं किया तो मंच विधानभवन के घेराव के लिए विवश होगा।

बैठक में प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य संजय द्विवेदी, सदस्य मोहम्मद इस्माइल, सरदार सुरेंद्र पाल सिंह बक्शी, मोहित मिश्रा, अरुण कुमार (बाबा), सर्वेश पाल, सुबोध यादव, पवन कुमार दुबे, ऋचा चतुर्वेदी, अमृत शर्मा, राजेश यादव, मास्टर जी, इंद्र प्रकाश बौद्ध शामिल रहे।