Home » संसद में मिलें नए सुझाव ताकि कमियों को ठीक किया जा सके- PM मोदी
देश न्यूज

संसद में मिलें नए सुझाव ताकि कमियों को ठीक किया जा सके- PM मोदी

संसद के मानसून सत्र (#MonsoonSession) की शुरुआत के पहले संसद भवन परिसर में मीडिया को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सांसदों से कोरोनावायरस के खिलाफ सुझाव देने का आवाहन किया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि इस महामारी ने पूरे विश्व को अपनी चपेट में लिया हुआ है इसलिए हम चाहते हैं कि संसद में भी इस महामारी के संबंध में सार्थक चर्चा हो। सभी व्यावहारिक सुझाव सभी सांसदों से मिलें ताकि महामारी के खिलाफ लड़ाई में नयापन आ सके और कमियों को भी ठीक किया जा सकता है।

पीएम ने कहा कि मैंने सदन के सभी नेताओं से आग्रह किया है कि अगर कल शाम को वो समय निकालें तो मैं महामारी के संबंध में सारी विस्तृत जानकारी उनको देना चाहता हूं। हम सदन के अंदर और सदन के बाहर भी चर्चा चाहते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि ये सदन परिणामकारी, सार्थक चर्चा के लिए समर्पित हो, देश की जनता जो जवाब चाहती है वो जवाब देने की सरकार की पूरी तैयारी है। मैं सभी सांसदों और राजनीतिक दलों से आग्रह करूंगा कि वो तीखे से तीखे सवाल पूछें लेकिन सरकार को शांत वातावरण में जवाब देने का मौका भी दें।

पीएम ने कहा कि मैं आशा करता हूं कि आप सबको वैक्सीन की कम से कम एक ड़ोज लग गई होगी। वैक्सीन बाहु पर लगती है और जब वैक्सीन बाहु पर लगती है तो आप बाहुबली बन जाते हैं। अब तक 40 करोड़ से ज़्यादा लोग कोरोना के खिलाफ लड़ाई में बाहुबली बन चुके हैं।

उधर, प्रहलाद जोशी, केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री ने कहा कि सरकार किसी चर्चा से नहीं भाग रही है, सरकार सार्थक चर्चा में विश्वास करती है। कोरोना की दूसरी वेव के बाद हम क्या चर्चा कर रहे हैं, लोग ये देख रहे हैं। हमारे बहुत लंबित बिल हैं, लोग सरकार और विपक्ष से उम्मीद कर रहे हैं।