Home » नौसेना और कोस्ट गार्ड को मिली रिमोट कंट्रोल से संचालित बंदूक
टेक्नोलॉजी न्यूज

नौसेना और कोस्ट गार्ड को मिली रिमोट कंट्रोल से संचालित बंदूक

इजरायल के प्रोद्योगिकी हस्तांतरण के बाद आयुध निर्माणी ने बनाई रिमोट चालित गन। (फोटो- एआईआर ट्वीटर)

इजरायल के साथ तकनीकी सहयोग और प्रौद्योगिकी हस्तांतरण के जरिए भारतीय नौसेना और कोस्ट गार्ड ने ऐसी स्वचालित बंदूकें हासिल की हैं जिसके सामने पड़ने वाले का बचना मुश्किल होगा। वजह, ये बंदूकें थर्मल इमेजर, सीसीडी कैमरा और लेजर रेंज फाइंडर जैसी सुविधाओं से लैस हैं, जिसके जरिए लंबी दूरी तक मार करने वाली ये बंदूकें पलक झमकते सामने वाले को ढेर कर देने में सक्षम हैं।

इन बंदूकों का निर्माण आयुध निर्माणी तिरुचिरापल्ली ने किया है। रक्षा मंत्रालय के अधीन काम करने वाली आयुध निर्माणी ने भारतीय नौसेना को पंद्रह 12.7 मिमी एम 2 नाटो स्थिर रिमोट कंट्रोल गन और 10 भारतीय तटरक्षक को सौंप दिया है। इस गन को एलबिट सिस्टम्स, इज़राइल से प्रौद्योगिकी समझौते के हस्तांतरण के साथ निर्मित किया गया है। दोनों बलों को जल्द ही इस श्रेणी की और भी बंदूके मिलने जा रही हैं।

बंदूक समुद्री अनुप्रयोगों के लिए है और दूर से लक्ष्य को भेद सकती है। यह दिन और रात के संचालन के माध्यम से लक्ष्यों के अवलोकन और ट्रैकिंग के लिए एक इनबिल्ट सीसीडी कैमरा, थर्मल इमेजर और एक लेजर रेंज फाइंडर से लैस है।

माना जा रहा है कि इन बंदूकों से लैस जहाजों को समुद्री निगरानी में आसानी होगी। लक्ष्यों की पहचान और सटीक निशाने की खूबियों के चलते यह बेमिसाल हथियार साबित हो सकता है।

About the author

Ranvijay Singh

Add Comment

Click here to post a comment