Home » प्रयागराजः 100 जोड़ी ट्रेनों की रफ्तार 130 किमी प्रतिघंटे, नतीजा- 92 फीसदी समय पालन
न्यूज परिवहन

प्रयागराजः 100 जोड़ी ट्रेनों की रफ्तार 130 किमी प्रतिघंटे, नतीजा- 92 फीसदी समय पालन

उत्तर मध्य रेलवे के मण्डल रेल प्रबंधक प्रयागराज मोहित चंद्रा ने बताया कि प्रयागराज मण्डल में 130 किमी प्रति घंटे की अधिकतम गति पर करीब 100 जोड़ी से अधिक ट्रेनें चल रही हैं, यह भारतीय रेल के किसी भी अन्य मण्डल की तुलना में बहुत अधिक संख्या है। चालू वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही के दौरान डिवीजन ने मेल एक्सप्रेस ट्रेनों का समयपालनता लगभग 92% हासिल की,  यह किसी भी वर्ष में इस अवधि के दौरान अब तक का सर्वोत्तम प्रदर्शन रहा है।

मण्डल रेल प्रबंधक ने बताया कि राजस्व अर्जन में भी पहली तिमाही का हमारा प्रदर्शन काफी उत्साहजनक रहा है और हमने कोचिंग से लगभग 148 करोड़ रुपये और 137 करोड़ रुपये माल भाड़ा से अर्जित कर कुल 285 करोड़ रुपये अर्जित किये यह पिछले वित्तीय वर्ष 2020-2021 की समान अवधि में अर्जित 69 करोड़ रुपये की तुलना में 312% अधिक है। पिछले नौ महीनों से अधिक की समयावधि के दौरान , हमारी माल भाड़ा आय पिछले वर्ष की समान अवधि से बेहतर रही है।

माल ढुलाई के क्षेत्र में भी हमने अधिक संख्या में ट्रेनों का संचालन उच्च औसत गति पर किया है। यह पहली तिमाही यानी अप्रैल से जून 2021 में प्रयागराज मण्डल ने 1.36 एमटी की लोडिंग दर्ज की है, यह पिछले वर्ष की समान अवधि के दौरान हुई 0.83 एमटी की लोडिंग से 67.9% अधिक है। पहली तिमाही के दौरान दर्ज अब तक का यह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।

इस दौरान हमने कई नई वस्तुओं का लदान भी प्रारम्भ किया है, जैसे

1.       ट्रैक्टर

2.       गेहूं, चना, चावल, मक्का,

3.       खाद्य तेल

4.       सीमेंट आदि।

कोविड आपदा जैसी विषम परिस्थितियों और भारतीय रेल के सबसे व्यस्ततम रेल मार्गों में से एक होने के बावजूद भी प्रयागराज मण्डल ने अपनी रखरखाव सम्बंधी गतिविधियों को पूरी क्षमता से जारी रखते हुये संरक्षा के प्रदर्शन को और बेहतर किया है। इसके फलस्वरूप इस तिमाही में शून्य दुर्घटना दर्ज की है।

प्रयागराज मंडल का कुल क्षेत्रफल 3174 ट्रैक किमी में शेष बचे हिस्से में इस वित्तीय वर्ष के अंत तक लगभग 300 ट्रैक किलोमीटर के विद्युतीकरण का कार्य पूरा किये जाने की उम्मीद है। इसके फलस्वरूप डिवीजन का 98% ट्रैक किलोमीटर विद्युतीकृत हो जायेगा। इससे कीमती डीजल के आयात को कम करेने में मदद मिलेगी।

उन्होने बताया कि महिला यात्रियों की सुरक्षा के दृष्टिगत प्रयागराज मंडल में मेरी सहेली प्रोजेक्ट के अंतर्गत कुल-8 महिला टीमों  (प्रयागराज  (तीन टीमें), कानपुर सेंट्रल (तीन टीमें) एवं अलीगढ़ (दो टीमें)) का गठन किया गया है। मेरी सहेली अभियान के दौरान रेल सुरक्षा बल पोस्ट प्रयागराज द्वारा 4995 महिला यात्रियों, कानपुर सेंट्रल द्वारा 5083 महिला यात्रियों एवं अलीगढ़ द्वारा 1889 महिला यात्रियों सहित कुल 11967 महिला यात्रियों को अटेण्ड किया गया।

प्रयागराज मण्डल में 100% रेलकर्मियों के वैक्सीनेशन के लक्ष्य के साथ कार्य करते हुये 18-45 वर्ग के 70% कर्मचारियों और 45 वर्ष से अधिक के 88% कर्मचारियों का वैक्सीनेशन कर लिया है। दूरस्थ स्थानों पर कार्यरत कर्मियों के लीये कार्यस्थल पर वैक्सीनेशन का अभियान चलाया जा रहा है।

यात्रियों की महत्वपूर्ण आवश्यकता को ध्यान में रखते हुये, हमने कानपुर में नये मेमू कार शेड की स्थापना की है जहां वर्तमान में 20 रेकों का रखरखाव किया जा सकेगा। अत्याधुनिक उपकरणों से लैस मेमू रेकों का रखरखाव यंहां किया जाएगा। अभी एक रेक का रखरखाव किया जा रहा है और अन्य 5 रेक शीघ्र ही आने की सम्भावना है।

वर्तमान वित्तीय वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही के दौरान, प्रयागराज मण्डल ने स्क्रैप निस्तारण में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुये 2433 मीट्रिक टन स्क्रैप का निस्तारण किया यह पिछले वित्तीय वर्ष  20-21 की समान अवधि के 494 मीट्रिक टन स्क्रैप के निस्तारण की तुलना में 393% अधिक है। इसी क्रम में वित्तीय वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही में स्क्रैप निस्तारण से 9.64 करोड़ रुपये की आय हुई यह पिछले वित्तीय वर्ष  20-21 की समान अवधि के 1.12 करोड़ रुपये की तुलना में 761% अधिक है।

सौर्य ऊर्जा के क्षेत्र में भी बेहतर प्रदर्शन करते हुये प्रयागराज मण्डल ने जून 2021 तक 3629 किलो वाट पीक क्षमता के सोलर पावर प्लांट की स्थापना की है। प्रयागराज मण्डल ने वर्तमान वित्तीय वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही के दौरान 1164348 यूनिट बिजली का उत्पादन किया जिससे लगभग 38,49,000/- रुपये की आय हुई, जो कि पिछले वित्तीय वर्ष  20-21 की समान अवधि के दौरान उत्पादित 1008012 यूनिट बिजली से हुई 33,66,000/- रुपये की आय से क्रमशः 15.5% एवं 12.5% अधिक है। इस अवसर पर वर्चुअल माध्यम से प्रयागराज, कानपुर, टूण्डला व मिर्जापुर के प्रेस प्रतिनिधीगण एव अपर मण्डल रेल प्रबंध/ इंफ्रा सहित मण्डल के अधिकारी उपस्थित थे।