Home » परिसीमन आयोग के कश्मीर पहुंचने के पहले ही बढ़ी हलचल, पीडीपी नाराज
देश न्यूज

परिसीमन आयोग के कश्मीर पहुंचने के पहले ही बढ़ी हलचल, पीडीपी नाराज

जम्मू-कश्मीर में विधानसभा क्षेत्रों के नए परिसीमन के लिए चुनाव आयोग के परिसीमन आयोग के राज्य में पहुंचने से पहले ही हलचल बढ़ गई है। परिसीमन आयोग राज्य में नए विधानसभा क्षेत्रों के गठन के लिए सभी राष्ट्रीय और क्षेत्रीय दलों के प्रतिनिधियों से मुलाकात करेगा। आपत्तियों की सुनवाई भी होगी। परिसीमन आयोग में न्यायमूर्ति रंजना प्रकाश देसाई, मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा और उप चुनाव आयुक्त चंद्र भूषण शामिल हैं।

श्रीनगर पहुंचने पर आयोग के सदस्य जम्मू-कश्मीर के राष्ट्रीय और क्षेत्रीय राजनीतिक दलों के नेताओं से मुलाकात करेंगे। इस बातचीत का उद्देश्य केंद्र शासित प्रदेश में नए निर्वाचन क्षेत्रों को बनाने के लिए परिसीमन अभ्यास के संचालन के बारे में प्रत्यक्ष जानकारी एकत्र करना होगा।

आयोग जम्मू-कश्मीर में पहली बार अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लिए निर्वाचन क्षेत्रों का भी गठन करेगा। श्रीनगर के बाद, परिसीमन आयोग के सदस्यों के पहलगाम और उसके बाद जम्मू जाने की उम्मीद है।

आयोग के सदस्य अनंतनाग, कुलगाम, पुलवामा और शोपियां के जिला चुनाव अधिकारियों से भी बातचीत करेंगे। वे श्रीनगर, गांदरबल, बडगाम, बांदीपोरा, बारामूला और कुपवाड़ा के जिला चुनाव अधिकारियों से भी बातचीत करेंगे।

परिसीमन आयोग का गठन पिछले साल मार्च में किया गया था और चल रही महामारी के कारण मार्च 2021 में इसका कार्यकाल एक और साल के लिए बढ़ा दिया गया था।

दूसरी तरफ पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती ने परिसीमन आयोग से मुलाकात न करने की बात कही है। उनका आरोप है कि परिसीमन आयोग पूर्व निर्धारित योजना के अनुसार काम कर रहा है। उनका इशारा केंद्र सरकार पर है।