Home » राफेल पर राहुल गांधी का मोदी सरकार से सवाल- JPC जांच को तैयार क्यों नहीं?
देश न्यूज

राफेल पर राहुल गांधी का मोदी सरकार से सवाल- JPC जांच को तैयार क्यों नहीं?

राफेल लड़ाकू विमानों की खरीद भ्रष्टाचार को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मोदी सरकार को कटघरे में खड़ा किया है। राहुल गांधी ने रविवार को ट्वीट कर कहा जेपीसी जांच के लिए सरकार तैयार क्यों नहीं है। इसके साथ ही राहुल गांधी ने चार विकल्प देते हुए आरोप लगाया कि अपराध बोध से ग्रसित है। मित्रों को बचाना है और जेपीसी को राज्यसभा की सीट नहीं चाहिए। चौथे विकल्प में खुद ही लिखा है कि सभी आरोप सही हैं।

गौरतलब है कि राफेल लड़ाकू विमान सौदे में भ्रष्टाचार के मामले को लेकर फ्रांस ने जांच बैठाई गई है। कांग्रेस ने सौदे में भ्रष्टाचार की आशंका जताते हुए जेपीसी जांच की मांग फिर दोहराई है। साथ ही आगामी संसद सत्र में इस मुद्दे को जोर-शोर से उठाने के संकेत भी दिए हैं। स

फ्रांस में जांच की घोषणा होते ही देश में राजनीतिक गतिविधियां तेज हो गई। आरोप-प्रत्यारोप की झड़ी लगने लगी है। भारतीय जनता पार्टी ने भी पलटवार करते हुए आरोप लगाया कि राहुल गांधी राफेल की प्रतिद्वंदी रक्षा कंपनियों के एजेंट की तरह काम कर रहे हैं। उनका एक मोहरे की तरह इस्तेमाल किया जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट और सीएजी से इस सौदे को क्लीन चिट मिलने के बावजूद राहुल गांधी लगातार झूठ बोलकर इसे विवाद में घसीट ने की कोशिश करते हैं। 36 अत्याधुनिक विमानों का यशोदा 59000 करोड रुपए का है। फ्रांस में एक एनजीओ की शिकायत पर जांच बैठाई गई है।

कांग्रेस मीडिया विभाग के प्रमुख रणदीप सुरजेवाला ने शनिवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि फ्रांस में पब्लिक प्रॉसीक्यूशन सर्विस ने राफेल कागजात में भ्रष्टाचार, क्रोनी कैपिटिलिज्म, अनुचित प्रभाव आदि की जांच शुरू की है। उन्होंने कहा कि जांच के दायरे में फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद, मौजूदा राष्ट्रपति मैनुअल मैंक्रो और वहां के पूर्व रक्षा मंत्री और वर्तमान विदेश मंत्री हैं। सुरजेवाला ने कहा कि फ्रांस में इस बेहद संवेदनशील मामले की जांच के लिए एक जज की नियुक्ति की गई है।

About the author

Ranvijay Singh

Add Comment

Click here to post a comment