Home » कनाडा समेत 50 देश इस्तेमाल करना चाहते हैं भारत का को-विन प्लेटफॉर्म
देश न्यूज

कनाडा समेत 50 देश इस्तेमाल करना चाहते हैं भारत का को-विन प्लेटफॉर्म

भारत में कोरोना वैक्सीन देने की मुहिम तेजी से आगे बढ़ रही है। सोमवार की सुबह तक देश में करीब 33 करोड़ लोग वैक्सीन लगवा चुके हैं। दुनियाभर में भारत की इस उपलब्धि की धाक जमी है। लोग वैक्सीन का डोज लेने के लिए लोग कोविन ऐप के जरिए अपना रजिस्ट्रेशन कर रहे हैं। इसी बीच कनाडा, मैक्सिको, नाइजीरिया और पनामा सहित करीब 50 देश अपने वैक्सीनेशन अभियान के लिए कोविन जैसी प्रणाली का इस्तेमाल करना चाहते हैं। भारत भी ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर मुफ्त में शेयर करने के लिए तैयार हो गया है। एक सरकारी अधिकारी ने सोमवार को इस बारे में जानकारी दी।

कोविड-19 वैक्सीन अभियान के लिए अधिकार प्राप्त समूह के अध्यक्ष डॉ आरएस शर्मा ने सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अधिकारियों को सॉफ्टवेयर का एक ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर’ तैयार करने और इसमें रुचि दिखाने वाले किसी भी देश को मुफ्त मुहैया कराने के निर्देश दिए हैं।

कई देशों ने कोविन के इस्तेमाल में दिखाई रूचि

डॉ आरएस शर्मा ने शर्मा ने कहा, “कोविन प्लेटफार्म इतना फेमस हो गया है कि मध्य एशिया, लातिनी अमेरिका, अफ्रीका के करीब 50 देशों ने इसके इस्तेमाल में रुचि दिखाई है।’

उन्होंने यह भी कहा कि दुनियाभर के स्वास्थ्य और प्रौद्योगिकी विशेषज्ञों का एक वैश्विक सम्मेलन पांच जुलाई को डिजिटल तरीके से आयोजित किया जाएगा और उस कार्यक्रम में भारत शेयर करेगा कि यह प्रणाली किस प्रकार काम करती है।

उन्होंने आगे कहा, “पांच महीनों में कोविन बहुत फेमस हो गया है और मुझे ख़ुशी है कि हम अब अन्य देशों की भी मदद कर सकेंगे। यदि हमें कोरोना के खिलाफ जंग जीतना है तो मिलकर काम करना होगा. इसके लिए सभी देशों का साथ जरूरी है।”