Home » प्रयागराजः रोटरी क्लब और नर्सिंग होम एसोसिएशन ने खोला ऑक्सीजन बैंक
न्यूज स्वास्थ्य

प्रयागराजः रोटरी क्लब और नर्सिंग होम एसोसिएशन ने खोला ऑक्सीजन बैंक

कोरोना महामारी के दौरान ऑक्सीजन के लिए मची मारामारी को देखते हुए प्रयागराज में ऑक्सीजन बैंक शुरू किया गया है। अब ऑक्सिजन के लिए दर दर भटकना नहीं होगा। कोरोना की दूसरी लहर में जिस तरह से ऑक्सीजन की कमी के कारण सैकड़ों लोगों ने अपनी जान गवाई, वह किसी को भी तोड़ देने के लिए काफी है। अकेले प्रयागराज में ही सैकड़ों की तादाद में लोगों ने ऑक्सीजन की कमी के कारण अपने प्राणों को खोया। इसके कारण सरकार, प्रशासन और सरकारी/गैर सरकारी अस्पतालों की भी काफी फजीहत हुई।

इसी फजीहत एवं लोगों को परेशानी से बचाने के लिए रोटरी क्लब एवं इलाहाबाद नर्सिंग होम एसोसिएशन के संयुक्त तत्वावधान में शनिवार से एक नए ऑक्सीजन बैंक की स्थापना की गई। इस बैंक में लगभग 110 आक्सीजन सिलेंडरों की क्षमता है। इसका सीधा उपयोग आम लोगों द्वारा किया जाएगा।

इस ऑक्सीजन बैंक को कोरोना की तीसरी लहर के समय काफी कारगर माना जा रहा है। इस बैंक के संस्थापक दल में इलाहाबाद नर्सिंग होम एसोसिएशन के पदाधिकारी एवं रोटरी क्लब के पदाधिकारियों ने मिलकर मेहनत की है। यह तय किया गया है कि किसी भी व्यक्ति को जिसे भी ऑक्सीजन की आवश्यकता है, इस बैंक से उन्हें ऑक्सीजन निर्धारित कीमत पर दिया जाएगा।

प्रत्येक मरीज के लिए 3 दिन के अंदर सिलेंडर बदला जाएगा एवं गैस सिलेंडर को उसकी लागत एवं यातायात शुल्क की दर पर पुनः भर कर दिया जाएगा। यदि कोई व्यक्ति ऑक्सीजन बैंक से लिए हुए सिलेंडर को वापस नहीं करता है तो उस व्यक्ति पर प्रतिदिन 100 से ₹200 तक अधिभार लगाया जाएगा।

इस बैंक के तत्वाधान में एक नई तकरीर को सामने लाया गया है, जिसके तहत यदि कोई व्यक्ति इस ऑक्सीजन बैंक को एक सिलेंडर देता है या दान करता है। आवश्यकता पड़ने पर उस व्यक्ति को 2 सिलेंडर दिए जाएंगे जिसमें उन्हें कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं देना होगा। इस विषय में जानकारी देते हुए बैंक के पदाधिकारियों ने बताया कि इस बैंक को कोरोना की तीसरी या आगे और आने वाली लहर को देखते हुए बनाया गया है और जल्द ही इसका और विस्तार किया जाएगा।