Home » जम्मू-कश्मीर में कुछ होने वाला है, 24 जून को पीएम करेंगे स्थानीय नेताओं से वार्ता
देश न्यूज

जम्मू-कश्मीर में कुछ होने वाला है, 24 जून को पीएम करेंगे स्थानीय नेताओं से वार्ता

05 अगस्त 2019 से पूर्ण राज्य का दर्जा खो चुके और दो हिस्सों में विभाजित जम्मू-कश्मीर के लिए बड़ी जानकारी सामने आ रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य के नेताओं से 24 जून को वार्ता करेंगे। राज्य में इस खबर से हलचल बढ़ चुकी है। माना जा रहा है कि इसमें राज्य में दुबारा पूर्ण राज्य की बहाली पर भी मंथन हो सकता है। स्थानीय नेता लंबे अरसे से इसकी मांग कर रहे हैं। यही नहीं, पिछले दिनों राज्य में बढ़ाई गई अतिरिक्त सुरक्षा के मद्देनजर भी तरह-तरह की अटकले हैं।

पीटीआई की खबर के अनुसार प्रधानमंत्री जम्मू-कश्मीर के नेताओं को फोन कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ 24 जून को वार्ता के लिए आमंत्रित किया गया है। एजेंसी ने यह जानकारी अधिकारियों के हवाले से दी है।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने 5 अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर से धारा-370 को खत्म कर दिया गया था। इसके साथ ही राज्य को हिस्सों में विभाजित कर केंद्र शासित प्रदेश के रूप में परिवर्तित कर दिया गया। इसमें जम्मू-कश्मीर एक हिस्सा है और लद्दाख को अलग कर दिया गया। लद्दाख में कारगिल भी शामिल है। इस कदम के साथ ही केंद्र सरकार ने साफ किया था कि भविष्य में जम्मू-कश्मीर को दुबारा पूर्ण राज्य का दर्जा मिल सकता है। हालांकि, उस वक्त भी यह साफ किया गया था कि जेके में अब लद्दाख का विलय नहीं होगा।

यह भी अवगत करा दें कि जम्मू-कश्मीर में दलितों को देश के अन्य हिस्सों की तरह सरकारी नौकरियों में आरक्षण, जम्मू-कश्मीर से बाहर के लोगों के लिए राज्य में जमीन खरीदने का अधिकार भी मिल चुका है। साथ ही पाकिस्तान की सीमा से सटे क्षेत्रों में निवास कर रहे लोगों को मतदान का अधिकार और कश्मीरी पंडितों की वापसी की कार्रवाई भी विभिन्न चरणों में है।