Home » UPBJPः चुनावी साल में समायोजन का तड़का, पिछड़ा वर्ग आयोग में भी नामित
उत्तर प्रदेश न्यूज

UPBJPः चुनावी साल में समायोजन का तड़का, पिछड़ा वर्ग आयोग में भी नामित

लखनऊ: चुनावी साल शुरू होने और दिल्ली के हस्तक्षेप के बाद उत्तर प्रदेश में भी भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं का समायोजन शुरू हो गया है। उत्तर प्रदेश एससी/एसटी आयोग के ठीक दूसरे दिन उत्तर प्रदेश राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के पदाधिकारियों का भी मनोनयन कर दिया गया। हालांकि, अभी इस बात की तस्दीक होना बाकी है कि इस समायोजन में भाजपा के मूल कार्यकर्ताओं और दूसरी पार्टियों से चुनावी लाभ उठाने की नीयत से पहुंचे लोगों का औसत कितना है। फिलहाल, सरकार के इस फैसले से नाराज चल रहे नेताओं और कार्यकर्ताओं में हलचल बढ़ी है। अभी जिला पंचायत अध्यक्ष पद के प्रत्याशियों के नामों का भी ऐलान होना है।

प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ के निर्देश पर उ0प्र0 राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं सदस्यों को नामित कर दिया है। इससे प्रदेश के अन्य पिछड़े वर्ग के लोगों को त्वरित न्याय दिलाने में आसानी होगी। सरकार ने आयोग में एक अध्यक्ष, दो उपाध्यक्ष तथा 25 सदस्य नामित किये हैं।

राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग में सहारनपुर के जसवन्त सिंह सैनी को अध्यक्ष बनाया गया है। लखीमपुर के हीरा ठाकुर तथा गाजीपुर के प्रभुनाथ चौहान को उपाध्यक्ष बनाया गया है। आयोग के कार्यों को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए एवं पिछड़े वर्ग के लोगों न्याय दिलाने के लिए 25 सदस्यों की भी नियुक्ति की गई है।

इसमें जनपद मुजफ्फरनगर से जगदीश पांचाल, मेरठ से हरवीर पाल, अमरोहा से चन्द्र पाल खड़गवंशी, गौतमबुद्धनगर से विजेन्द्र भाटी, आगरा से राकेश कुशवाहा, झांसी से जगदीश शाहू, चित्रकूट से राम रतन प्रजापति, अयोध्या से बलराम मौर्य एवं रघुनंदन चैरसिया, चन्दौली से शिव मंगल बियार, बलिया से देवेन्द्र यादव, देवरिया से डा0 त्रिपुणायक विश्वकर्मा, गोरखपुर से राम जियावन मौर्य, फतेहपुर से राधेश्याम नामदेव, अम्बेडकर नगर से धर्मराज निषाद, कानपुर से अरूण पाल एवं रमेश वर्मा निषाद, मैनपुरी से ममता राजपूत, मथुरा से घनश्याम लोधी, सहारनपुर से सपना कश्यप, बुलन्दशहर से रवीन्द्र राजौरा, बस्ती से शिवपूजन राजभर, मुरादाबाद से गिरीश वर्मा, प्रयागराज से जवाहर पटेल तथा वाराणसी से नरेन्द्र पटेल को पिछड़ा वर्ग आयोग का सदस्य नामित किया गया है

About the author

Ranvijay Singh

Add Comment

Click here to post a comment