Home » यूपीः स्ट्रीट वेंडर, ड्राइवर, कंडक्टर के वैक्सीनेशन के लिए 14 जून से चलेगा अभियान
उत्तर प्रदेश न्यूज

यूपीः स्ट्रीट वेंडर, ड्राइवर, कंडक्टर के वैक्सीनेशन के लिए 14 जून से चलेगा अभियान

कोरोना महामारी की दूसरी लहर पर लगभग पूरी तरह काबू पा चुकी उत्तर प्रदेश सरकार अब वैक्सीनेशन पर निगाह गड़ा दी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर स्ट्रीट वेंडर्स, ड्राइवर्स और कंडक्टर्स के लिए 14 जून से अभियान शुरू होने जा रहा है। इन वर्गों का वैक्सीनेशन कार्यस्थल पर किया जाएगा। ड्राइवर्स की श्रेणी में ऑटो, बस, ट्रक, ई-रिक्शा, साइकिल रिक्शा चालकों को शामिल किया गया है।

अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने सभी जिलाधिकारियों और मुख्य चिकित्साधिकारियों को पत्र लिखकर इन वर्गों के वैक्सीनेशन की तैयारी करने का निर्देश दिया है। सूबे में 45+ और 18+ आयु वर्ग के साथ फ्रंट लाइन वर्कर्स और 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को प्राथमिकता पर टीका लगाया जा रहा है। अब अलग-अलग जिलों में समूहों को भी लक्षित किया जाने लगा है। प्रयागराज में क्षेत्रीय प्रबंधक कार्यालय में कैंप लगाकर सभी चालकों, परिचालकों और अन्य कर्मचारियों का टीकाकरण किया गया है।

अमित मोहन प्रसाद ने कहा है कि फेरी लगाकर आजीविका कमाने वाले स्ट्रीट वेंडर, ऑटो रिक्शा, टैंपो आदि के ड्राइवर, साइकिल/ई-रिक्शा के चालकों, फल सब्जी विक्रेताओं के लिए भी 14 जून से विशेष टीकाकरण सत्र चलाया जाएगा।

ड्राइवर बूथ आरटीओ दफ्तर में लगाया जाएगा। इसमें प्रतिदिन कम से कम 100 कामर्शियल वाहन चालकों, जिसमें बस, टैक्सी, ऑटो, ई-रिक्शा/साइकिल रिक्शा और बसों के कंडक्टर्स के लिए दो बूथ लगेंगे। एक बूथ 45+ वाले नागरिकों और दूसरा 18+ वाले नागरिकों के लिए रहेगा। यह वर्कप्लेस सीवीसी की तरह क्रियाशील रहेगा।

स्ट्रीट वेंडर्स बूथ नगर निगम या नगर पालिका कार्यालयों में प्रतिदिन कम से कम 100 रेहड़ी, पटरी दुकानदारों, फल-सब्जी विक्रेताओं, रिक्शा-ठेला चालकों के लिए लगाया जाएगा। इसमें भी दो बूथ रहेंगे। पहला, 45+ और दूसरा 18+ आयु वर्ग वाले नागरिकों का टीकाकरण करेगा। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य ने कहा है कि सभी टीकाकरण केंद्रों पर मानक प्रक्रिया का पालन किया जाएगा।