Hindi News, हिंदी न्यूज़, Nationalwheels, नेशनलव्हील्स, Breaking News, ब्रेकिंग न्यूज़, Latest News in Hindi, ताज़ा ख़बरें, Nationalwheels News

70% आबादी और 92% वयस्कों, 3 करोड़ किशोरों को भी टीका लगा,

70% आबादी और 92% वयस्कों, 3 करोड़ किशोरों को भी टीका लगा,

दिल्ली : ओमिक्रोन संक्रमण के बढ़ते हुए खतरे के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय वैक्सीन की दुनिया भर में बढ़ी मांग और भारत की बड़ी आबादी के टीकाकरण को लेकर स्वास्थ्य कर्मियों की पीठ थपथपाई है। साथ ही तीसरी डोज को लेकर भी चेताया है कि वरिष्ठ नागरिकों और स्वास्थ्य कर्मियों को प्रिकॉशन डोज जितनी जल्दी लगेगी, उतना ही हमारे हेल्थ केयर सिस्टम का सामर्थ्य बढ़ेगा। शतप्रतिशत टीकाकरण के लिए घर-घर दस्तक अभियान को और तेज करने पर प्रधानमंत्री ने जोर दिया है।

पीएम मोदी ने कहा कि भारत में बनी वैक्सीन्स तो दुनिया भर में अपनी श्रेष्ठता सिद्ध कर रही हैं। ये हर भारतीय के लिए गर्व का विषय है कि आज भारत, लगभग 92 प्रतिशत वयस्क जनसंख्या को पहली डोज़ दे चुका है। देश में दूसरी डोज की कवरेज भी 70 प्रतिशत के आसपास पहुंच चुकी है।

PM @narendramodi ने कहा कि Frontline workers और सीनियर सिटिजन्स को precaution dose जितनी जल्दी लगेगी, उतना ही हमारे हेल्थकेयर सिस्टम का सामर्थ्य बढ़ेगा। शत-प्रतिशत टीकाकरण के लिए हर घर दस्तक अभियान को हमें और तेज़ करना है।

PM @narendramodi ने कहा कि पहले केंद्र और राज्य सरकारों ने जिस तरह pre-emptive, pro-active और collective approach अपनाई है, वही इस समय भी जीत का मंत्र है।कोरोना संक्रमण को हम जितना सीमित रख पाएंगे, परेशानी उतनी ही कम होंगी।

PM ने कहा कि हमें सतर्क रहना है, सावधान रहना है लेकिन Panic की स्थिति ना आए, इसका भी ध्यान रखना है। हमें ये देखना होगा कि त्योहारों के इस मौसम में लोगों की और प्रशासन की एलर्टनेस कहीं से भी कम नहीं पड़े।

PM @narendramodi ने संक्रमण बढ़ने पर चेताते हुए कहा कि ऑमिक्रोन को लेकर पहले जो संशय की स्थिति थी, वो अब धीरे-धीरे साफ हो रही है। पहले जो वैरिएंट थे, उनकी अपेक्षा में कई गुना अधिक तेज़ी से ऑमिक्रोन वैरिएंट सामान्य जन को संक्रमित कर रहा है।

PM @narendramodi ने कहा कि 100 साल की सबसे बड़ी महामारी से भारत की लड़ाई अब तीसरे वर्ष में प्रवेश कर चुकी है। परिश्रम हमारा एकमात्र पथ है और विजय एकमात्र विकल्प। हम 130 करोड़ भारत के लोग, अपने प्रयासों से कोरोना से जीतकर अवश्य निकलेंगे।

उन्होंने कहा कि सामान्य लोगों की आजीविका, आर्थिक गतिविधियों को कम से कम नुकसान हो, अर्थव्यवस्था की गति बनी रहे, कोई भी रणनीति बनाते समय इसका ध्यान रखना बहुत आवश्यक है। इसलिए लोकल containment पर ज्यादा फोकस करना बेहतर होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *