Home » रेलवे ने तैयार किए 70 हजार आइसोलेशन बेड वाले 4,400 ‘कोविड केयर कोच
न्यूज

रेलवे ने तैयार किए 70 हजार आइसोलेशन बेड वाले 4,400 ‘कोविड केयर कोच

भारतीय रेलवे ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सहयोग करते हुए अब तक 4,400 रेल डिब्बों को आइसोलेशन कोच में तब्दील किया है, जिसमें लगभग 70,000 बिस्तर तैयार किए गए हैं। यह आइसोलेशन कोच राज्यों की मांग पर भारतीय रेलवे के नेटवर्क पर एक स्थान से दूसरे स्थान पर आसानी से ले जाए जा सकते हैं। अब तक विभिन्न राज्यों की मांग पर कुल 232 आइसोलेशन कोच उपलब्ध कराए गए हैं, जिनकी कुल क्षमता 4,000 बिस्तरों से अधिक है।


कूलर और जूट-मैट सहित कोचों में 2 ऑक्सीजन सिलेंडर भी उपलब्ध

रेल मंत्रालय ने बुधवार को बताया कि इन कोचों का इस्तेमाल हल्के और मध्यम लक्षणों वाले रोगियों के लिए किया का सकता है। इन कोचों को अब मौजूदा गर्म मौसम की स्थिति को पूरा करने के लिए कूलर और जूट-मैट सहित कई सुविधाओं से लैस किया गया है। एक कोच में 16 बेड की व्यवस्था है। इन कोचों में 2 ऑक्सीजन सिलेंडर भी उपलब्ध कराए गए हैं। इसके अलावा रेलवे द्वारा उपलब्ध कराई जा रही खानपान सुविधा तथा स्वच्छता पर सेवाएं लेने वाले मरीजों से सकारात्मक प्रतिक्रिया मिल रही है।

राज्यों में तैनात कोचों में 3,600 से अधिक बेड उपलब्ध

वहीं, राज्यों में तैनात रेलवे के आइसोलेशन कोचों में अब तक 162 मरीजों को भर्ती कराया गया, जबकि 96 को छुट्टी दी जा चुकी है। वर्तमान में 66 कोविड रोगी आइसोलेशन डिब्बों का उपयोग कर रहे हैं। इन कोचों में अभी भी 3,600 से अधिक बेड उपलब्ध हैं।

यही नहीं, रेलवे ने नगालैंड और गुजरात सरकार से आई आइसोलेशन कोचों की मांग को पूरा करते हुए साबरमती, चांदलोडिया और दीमापुर में कोचों को तैनात किया है। रेलवे उत्तर प्रदेश में राज्य से मांग नहीं आने के बावजूद कोविड केयर कोच उपलब्ध करा चुका है।

महाराष्ट्र में 21 कोविड केयर कोच’ तैनात

महाराष्ट्र के नंदुरबार स्टेशन पर 378 बेड के साथ तैनात 21 ‘कोविड केयर कोच’ में इस समय 26 मरीज भर्ती हैं। अब तक यहां 104 मरीज भर्ती हो चुके हैं, जबकि 78 को छुट्टी दी जा चुकी है। रेलवे ने अपनी इनलैंड कंटेनर डिपो में 11 कोविड केयर कोच को नागपुर नगर-निगम को सौंप दिया है। यहां 6 मरीजों को भर्ती किया गया और 4 को छुट्टी दे दी गई।

मध्य प्रदेश में 22 कोच तैनात

मध्य प्रदेश सरकार की मांग के क्रम में पश्चिमी रेलवे की रतलाम डिवीजन ने इंदौर के पास तिही स्टेशन पर 320 बेड की क्षमता वाले 22 कोच तैनात किए हैं। यहां फिलहाल, 19 मरीज भर्ती हैं, जबकि एक को छुट्टी दे दी गई है। भोपाल में तैनात 20 कोच में से अभी भी लगभग 302 बिस्तर उपलब्ध हैं। यहां 28 मरीज भर्ती हैं, जबकि 12 ठीक हो कर घर जा चुके हैं। इस सुविधा में 273 बिस्तर उपलब्ध हैं।

दिल्ली में 75 कोविड केयर कोच उपलब्ध

वहीं, दिल्ली में भी राज्य सरकार की मांग पर रेलवे ने 1,200 बिस्तरों की क्षमता वाले 75 कोविड केयर कोच उपलब्ध कराये हैं। शकूरबस्ती स्टेशन पर 800 बिस्तरों की क्षमता वाले 50 आइसोलेशन कोच और आनंद विहार रेलवे स्टेशन पर 400 बेड के साथ 25 कोच तैनात हैं। शकूरबस्ती में अभी तक पांच मरीजों को भर्ती कराया गया इनमें से चार को छुट्टी दी जा चुकी है। यहां 1,199 बेड अभी भी उपलब्ध हैं।