National Wheels

मुलायम से मिले राजा भैया, सपा से समझौते की संभावना

जनसत्ता दल (लोकतांत्रिक) के मुखिया रघुराज प्रताप सिंह राजा भैया ने रिश्वत वार को समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव से उनके आवास पर मुलाकात की है। इस मुलाकात के राजनीतिक मायने निकाले जा रहे हैं। चर्चा है कि समाजवादी पार्टी से राजा भैया की पार्टी जनसत्ता दल सीटों को लेकर समझौता या तालमेल कर सकती है। हालांकि, सूत्रों का दावा है कि राजा भैया के संपर्क में भाजपा शीर्ष नेतृत्व है। भारतीय जनता पार्टी और जनसत्ता दल के बीच सीटों के समझौते की संभावनाओं से भी इनकार नहीं किया जा रहा है। वजह, प्रतापगढ़, कौशांबी, प्रयागराज, सुल्तानपुर, फतेहपुर, जौनपुर की कई सीटों पर राजा भैया का अच्छा प्रभाव माना जाता है, जो हार-जीत में अहम भूमिका निभा सकता है।

जनसत्ता दल (लोकतांत्रिक) के मुखिया राजा भैया ने बृहस्पतिवार की सुबह ट्वीटर पर सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव से मुलाकात की फोटो अपलोड की है। इसके साथ ही उन्होंने लिखा है यह भावुक पल रहा।

विधानसभा चुनाव के मुहाने पर खड़ी उत्तर प्रदेश में पिछले कुछ दिनों से राजनीतिक दलों के नेताओं की मुलाकातों का सिलसिला तेज हो गया है। इन मुलाकातों को चुनावी नजरिए से कि देखा, समझा और परखा जा रहा है। राजा भैया और मुलायम सिंह की मुलाकात को भी इसी निगाह से देखा जाना चाहिए।

राजा भैया के करीबी लोगों का कहना है कि मुलायम सिंह यादव और राजा भैया के बीच मधुर संबंध रहा है। मुलायम सिंह यादव, राजा भैया के संकट वाले दिनों में उनके साथ खड़े रहे हैं। समाजवादी पार्टी को दोबारा सत्ता में वापस लाने और बेटे अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाने के लिए मुलायम सिंह यादव भी पिछले कुछ समय से सक्रिय हैं। वह अखिलेश के अड़ियल स्वभाव के कारण दूर हो चुके करीबी नेताओं को अखिलेश के साथ जोड़ने में लगे हैं। ऐसे में इस बात की संभावना है कि मुलायम सिंह यादव ने ही इस मुलाकात के लिए पहल की हो।

समाजवादी पार्टी पिछले कुछ दिनों में उत्तर प्रदेश के कई छोटे राजनीतिक दलों से चुनावी समझौते कर रही है। इसमें पूर्वांचल में ओमप्रकाश राजभर के सुभासपा और पश्चिम में अजीत सिंह के बेटे जयंत चौधरी से लोकदल से विधानसभा चुनाव मिल सीटों को लेकर तालमेल बना है।

समाजवादी पार्टी के सूत्रों के मुताबिक अखिलेश यादव विधानसभा चुनाव में 300 सीटों पर लड़ने की तैयारी में हैं। 403 विधानसभा क्षेत्रों वाले उत्तर प्रदेश में 103 विधानसभा क्षेत्रों में छोटे दलों से समझौते कर सपा चुनाव लड़ेगी। आम आदमी पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रभारी संजय सिंह और समाजवादी पार्टी मुखिया के बीच भी चर्चाओं ने गर्मी पकड़ी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *