Hindi News, हिंदी न्यूज़, Nationalwheels, नेशनलव्हील्स, Breaking News, ब्रेकिंग न्यूज़, Latest News in Hindi, ताज़ा ख़बरें, Nationalwheels News

चित्रकूट में सामूहिक बलात्कार व हत्या केस में डीजी CBCID से रिपोर्ट तलब

चित्रकूट में सामूहिक बलात्कार व हत्या केस में डीजी CBCID से रिपोर्ट तलब

प्रयागराज। चित्रकूट जिले के बहिलपुरवा थाने क्षेत्र के सेमरदहा गांव की नाबालिग माधुरी उर्फ सरोज 17 साल के साथ सामूहिक बलात्कार और हत्या के मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट आज कड़ा रुख अपनाते हुए महानिदेशक सीबीसीआईडी लखनऊ से आख्या तलब की है।

मृतका के पिता शिव विजय द्वारा दाखिल क्रिमिनल मिसलेनियस रिट याचिका सं 11711/2021 में कहा गया है कि 22/23 अगस्त 2020 की रात में उसकी नाबालिग लड़की की हत्या कर शव को सहजन के पेड़ में लटकाया गया था, ताकि आत्महत्या का रूप दिया जा सके। याची के प्रार्थना पत्र को तत्कालीन थानाध्यक्ष बहिलपुरवा जयशंकर सिंह ने फाड़ कर फेंक दिया और दबाव डाल कर दूसरा लिखवाया, इसके बाद पंकज पांडेय ने थाने का चार्ज लिया उसने भी वही काम किया आरोपी गणों से मिल कर काम करने लगा। याची ने विवश हो सीआरपीसी की धारा 156(3) के तहत न्यायालय में प्रार्थना पत्र दिया,तब मामले की गंभीरता को देखते हुए अपरसत्र न्यायाधीश ( रेपकेस एवं पाक्सो एक्ट ) चित्रकूट ने 12 अक्टूबर 2020 को तत्कालीन थानाध्यक्ष बहिलपुरवा पंकज पांडेय, आरोपी सोनू, लवकुश, लालमन, एवं तीन अज्ञात लोगों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया। तब बहिलपुरवा थाने में मुकदमा अपराध सं००४१/२०२० धारा १४७ ,३७६ डी,३०२ ,५०४,५०६ आई पी सी और पाक्सो एक्ट की धारा ८ के तहत दर्ज किया गया, जांच अधिकारी सीओ सदर को बनाया गया, जिसकी जांच निश्पक्ष नहीं होने पर सीबीसीआईडी से कराने का आदेश राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग, नयी दिल्ली ने उप्र सरकार को 16/04/2021 को दिया।

प्रदेश सरकार ने मामले की जांच सीबीसीआईडी को सौंप कर 6 हप्ते में आख्या मांगी , लेकिन 6 माह बीत गए कोई कार्रवाई नहीं हुई । याची के अधिवक्ता आरपी एल श्रीवास्तव ने न्यायालय को अवगत कराया कि विधि विज्ञान प्रयोगशाला प्रयागराज की 28/08/2021 की रिपोर्ट में शुक्राणु पाये गये हैं। इससे साफ जाहिर होता है कि गैंगरेप के बाद हत्या की गई है।

नामजद आरोपी गणों की आज तक गिरफ्तारी तक नहीं की गई है। वहीं दूसरी ओर अपर शासकीय अधिवक्ता मो शोएब ने न्यायालय को अवगत कराया कि नाम जद आरोपियों के ब्लड सैंपल लेकर डीएनए टेस्ट के लिए लखनऊ भेजा गया है अतः कुछ समय दिया जाय,तब न्यायालय ने सुनवाई की तारीख 17 जनवरी 2022 निश्चत की ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *